योगी ने घोषणा कर दी, 5 जुलाई को मोदी अयोध्या पहुंचेंगे

0
यूपी में जुलूस-झांकी की इजाजत नहीं 30 सितंबर तक सभी आयोजनों पर बैन

भव्य समारोह में होगा राम मंदिर का भूमि पूजन

लम्बे समय से चल रहे अनुमानों के बाद अंतत: आज यूपी के सीएम योगी ने घोषणा कर दी कि 5 जुलाईको मोदी अयोध्या पहुंचेंगे। उन्होंने इस बात की पुष्टि भी कर दी कि भव्य समारोह में होगा राम मंदिर का भूमि पूजन। इस दौरान 40 किलो वजनी चांदी की ईट को पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों आधार शिला के रूप में स्थापित किया जाएगा। आज योगी ने मोदी के आगमन संबन्धी तैयारियों का जायजा भी लिया।

लखनऊ। आगामी 5 अगस्त को अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के भूमिपूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होंगे। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस पर मुहर लगा दी है। सीएम योगी ने शनिवार को अयोध्या में साधु-संतों के साथ बैठक में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं। उनके आगमन के समय के पहले ही अयोध्या को पूरी तरह स्वच्छ और सुसज्जित कर दिया जाए।

पीएम मोदी के अयोध्या पहुंचने के पहले सीएम योगी ने शनिवार को अयोध्या में तैयारियों का जायजा लिया। सीएम योगी तैयारियों का जायजा लेने राम जन्मभूमि परिसर पहुंचे और रामलला के दरबार में माथा टेका। सीएम ने राम मंदिर निर्माण स्थल को भी देखा। इसके बाद योगी आदित्यनाथ सीधे हनुमानगढ़ी पहुंचे। यहां से सीएम योगी सीधे राम जन्मभूमि निर्माण कार्यशाला पहुंचे। इसके बाद मुख्यमंत्री सीधे कारसेवक पुरम पहुंचे, जहां उन्होंने साधु-संतों से मुलाकात की।

Click Here – To Like And Follow Our FaceBook Page

उन्होंने ट्रस्ट के पदाधिकारियों से मुलाकात की और अधिकारियों से भी वार्ता की। साधु-संतों के साथ बैठक में सीएम योगी ने दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि हर मंदिर में 3 अगस्त से ही दीपक जलाए जाएं और 4 अगस्त को पूरी अयोध्या में दीपोत्सव जैसा माहौल हो। सभी मंदिरों में संकीर्तन प्रारंभ कर दिया जाए जो लगातार चलता रहे। इस पूरे कार्यक्रम को अयोध्या के दीपोत्सव जैसा बनाया जाए। वहीं ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए सीमित संख्या में ही लोगों को बुलाया जा रहा है।

उन्होंने यह साफ कर दिया कि लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती जैसे लोग कार्यक्रम में शामिल होंगे। विश्व हिंदू परिषद की ओर से भी भूमिपूजन को भव्य बनाने की तैयारी है। आगामी 5 अगस्त को सुबह 10.30 बजे सें देश और दुनिया में सभी संत और महात्माओं से अपील की गई है कि वे अपने आश्रम, मंदिर और तमाम भक्त अपने घर या फिर पास के मंदिर और आश्रम में भगवान की पूजा कीर्तन करें और प्रसाद बांटे। इसके अलावा अपने-अपने इलाकों में आयोध्या में होने वाले भूमिपूजन को बड़े स्क्रीन पर स्थानीय लोगों को दिखाने का प्रयास करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here