उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री की कोरोना से मौत

0
उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री की कोरोना से मौत

कैबिनेट मंत्री कमल वरूण के निधन के चलते टली राम मंदिर निर्माण का प्रथम पूजा

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल वरुण का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया है। उनका पूरा नाम कमल रानी वरुण था और वे यूपी विधानसभा की सदस्य थीं। इससे पहले वे सांसद भी रह चुकी हैं। कमल रानी वरुण यूपी सरकार में टेक्निकल एजुकेशन मंत्री थीं। उनके निधन पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक प्रकट किया है।

मुख्यमंत्री ने लिखा, उत्तर प्रदेश सरकार में मेरी सहयोगी, कैबिनेट मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण जी के असमय निधन की सूचना, व्यथित करने वाली है। प्रदेश ने आज एक समर्पित जननेत्री को खो दिया। उनके परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। ? शांति!

18 जुलाई को पॉजिटिव

कमल रानी वरुण उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री थीं, कमल रानी की कोरोना से मौत हुई है। वे 18 जुलाई को कोरोना से संक्रमित हुई थीं। बाद में इलाज के लिए उन्हें लखनऊ पीजीआई में दाखिल कराया गया था जहां रविवार को उनका निधन हो गया।

श्ऌढ नेता ने कहा लॉकडाउन के कारण टला हनुमानगढ़ी का पूजन

राम मंदिर निर्माण के लिए हनुमानगढ़ी में हनुमान निशानी का आज पूजन होना था जिसे स्थगित कर दिया गया। बीएचपी नेता प्रकाश तिवारी ने कहा है कि लॉकडाउन के चलते पूजा स्थगित की गई है। गौरतलब है कि शिलान्यास कार्यक्रम को देखते हुए अयोध्या में बेहद सख्त सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

4 अगस्त को होगी पूजा

आज सुबह भगवान हनुमान जी के निशान की पूजा होनी थी। यह पूजा सुबह 10 बजे होनी थी। दरअसल हनुमान अयोध्या के अधिष्ठाता हैं, इसलिए उनके निशान की पूजन के साथ ही निर्माण कार्य शुरू किया जा रहा था। अब यह पूजन 4 अगस्त को होगा।

आडवाणी नहीं जाएंगे अयोध्या

मंदिर के भूमि पूजन में शामिल होने के लिए लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को अभी तक निमंत्रण नहीं मिला है। हालांकि बताया जा रहा है कि दोनों नेताओं को फोन पर निमंत्रण दिया गया है, लेकिन वे अयोध्या नहीं जाएंगे। दोनों नेताओं के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन देखने की व्यवस्था की जा रही है। आडवाणी श्रीराम मंदिर आंदोलन के सूत्रधार हैं।

अन्य महत्वपूर्ण खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here