अयोध्या के रामलला मुसलमान बहिनों से राखी बंधवाएंगे

0
अयोध्या के रामलला मुसलमान बहिनों से राखी बंधवाएंगे

मोदी और योगी के लिए भी ख्वातीनें रखियां बना रहीं

तथा कथित धर्मनिरपेक्ष राजनेता गंगा जमुनी तहजीब की केवल बातें ही करते हैं। लेकिन मेरठ की मस्लिम बहिनों ने इसे साकार करने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने भरोसा जताया है कि अयोध्या के रामलला मुसलमान बहिनों से राखी बंधवाएंगे। बता दें कि मेरठ में बहुत सारी मुसलमान बहिनें 5 अगस्त को रामलला को अपने हाथों से बनाई गई राखियां भेजने का मंसूबा जाहिर कर चकी हैं। रामलला के साथ साथ मोदी और योगी के लिए भी ख्वातीनें रखियां बना रही हैं।

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

मेरठ। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की महिलाओं ने हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल पेश करते हुए रक्षाबंधन पर रामलला को राखियां भेजने का ऐलान किया है। रामलला को मुस्लिम बहनों के हाथ की बनी राखियां भेजी जाएंगी। राम नाम से सजी इन राखियों को शाहीन परवेज़ सहित कई मुस्लिम महिलाओं ने मिलकर तैयार किया है। इन मुस्लिम महिलाओं ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से अपील की है कि उनकी राखियों को स्वीकार किया जाए।

उन्होंने इन राखियों को बड़ी आस्था और प्रेम से तैयार किया है। रामलला के लिए राखियां बनाने वाली मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि इन अनूठी राखियों में राम नाम लिखा है। राखियों के बीच में मोरपंख बने हुए हैं। इन महिलाओं का कहना है कि पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर का भूमिपूजन हो रहा है। इसलिए उन्होंने ये राखियां अपने रामलला के लिए तैयार की हैं।

मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि 500 साल बाद राम मंदिर का भव्य निर्माण होने जा रहा है और रामलला को टेंट से मुक्ति मिली है। ये राखियां उसी खुशी के मौके पर मेरठ से रामलला के लिए भेजी जाएंगी। इन मुस्लिम महिलाओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए भी राखियां तैयार की हैं। काश धर्म और जाति के नाम पर देश को बांटने का कुचक्र रचने वाले तथा कथित धर्मनिपेक्ष नेता इन बहिनों कुछ सीख पाते!

अन्य महत्वपूर्ण खबरें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here