स्वदेशी कोरोना वेक्सीन का ह्यूमन ट्रायल अगले महीने से

0
कोविड-19 की वैक्सीन का मनुष्यों पर प्रयोग शुरू

चिकित्सा पूर्व के सभी प्रयोगों में सफलता मिली

भारत समेेत देश भर के लोगों के लिए एक बड़ी खुश खबरी है। देश में स्वदेशी कोरोना वेक्सीन का ह्यूमन ट्रायल अगले महीने से शुरू होने जा रहा है। बता दें कि कोविड-19 को हराने इस वेक्सीन को चिकित्सा पूर्व के सभी प्रयोगों में सफलता मिल चुकी है। इस आशय के सभी दस्तावेज संबन्धित प्रयोग शालाओं और विभागों को सौंपे जा चुके हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत बड़ी कामयाबी की ओर बढ़ रहा है। देश की अग्रणी वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने एक बड़ी घोषणा की । कंपनी ने बताया कि उसने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ विरोलॉजी के साथ मिलकर कोविड-19 के लिए भारत के पहले स्वदेशी कोरोना वेक्सीन कैंडिडेट को सफलता पूर्वक विकसित कर लिया है। इसका नाम कोवैक्सीन है और अगले महीने से इसका ह्यूमन ट्रायल शुरू हो जाएगा।

Click Here – To Like And Follow Our FaceBook Page

कंपनी की तरफ से जारी एक बयान के मुताबबिक घरेलू इनएक्टिवेटेड वैक्सीन को हैदराबाद के जीनोम वैली में स्थित भारत बायोटेक के बीएसएल-3 हाई कंटेनमेंट फैसिलिटी में विकसित करने के साथ ही विनिर्मित भी किया गया है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया, सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कंपनी को बड़ी क्लीयरेंस मिल चुकी है। सभी ने कंपनी को फेस 1 और फेस 2 के ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल शुरू करने की स्वीकृति दे दी है।

इसके पहले कंपनी ने इन संस्थाओं को प्री-क्लीनिकल स्टडीज से प्राप्त परिणाम सौंपे थे। अब भारत बायोटेक द्वारा अगले महीने से पूरे भारत में ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल शुरू किए जाएंगे। इस वैक्सीन के विकास में आईसीएमआर और एनआईवी की सहभागिता महत्वपूर्ण रही है। यदि इस वेक्सीन का ह्यूमन ट्रायल सफल रहे तो कोविड-19 को हराने के लिए देश का लोहा पूरी दुनिया मानने वाली है।

सर्वाधिक पढ़ी गयीं खबरें व आलेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here