उधारी की रकम नहीं चुका पाने पर ठेकेदार ने जहर खाकर दी जान

0
उधारी की रकम नहीं चुका पाने पर ठेकेदार ने जहर खाकर दी जान

मृतक के पास से सुसाइड नोट मिला, पुलिस कर रही जांच

भोपाल। भाजपा नेताओं की हत्या करने वाले कुख्यात बदमाश बंटी साहू की मां और व्यापारी की प्रताडऩा से परेशान होकर रेलवे ठेकेदार ने जहर खाकर मौत को गले लगा लिया। मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट से पूरे मामले का खुलासा हुआ है। दोनों उधारी की रकम नहीं चुकाने पर उसे धमकाते थे। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। एएसआई मोहन सिंह सेंगर के अनुसार रिंकू खटीक पिता जसवंत खटीक (35)निवासी न्यू कबाडख़ाना रेलवे के सफाई ठेके लेता था।

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

जुआ संचालन में भी उसका नाम प्रख्यात था और उसका नाम थाने की गुंडा लिस्ट में था। बीती रात करीब 11 बजे उसने घर में कोई संदिग्ध जहरीला पदार्थ खा लिया था। उसके छोटे भाई ने बेहोशी की हालत में देख तत्काल उसे अस्पताल पहुंचाया था। जहां डाक्टरों ने चेक कर उसे मृत घोषित कर दिया था। अस्पताल की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। मृतक के परिजनों ने पुलिस को एक सुसाइड नोट दिया है। जिसमें उसने बदमाश बंटी साहू की मां और बस स्टैंड के व्यापारी बनी सरदार पर प्रताडऩा के आरोप लगाए हैं।

दोनों उधारी की रकम चुकाने उसे प्रताडि़त कर रहे थे। पुलिस ने सुसाइड नोट को जब्त कर लिया है। इसकी की हैंडराइटिंग जांच कराई जाएगी। उल्लेखनीय है कि बंटी ने करीब चार साल पहले रेलवे के ठेके लेने की रंजिश में स्टेशन बजरिया इलाके में शूटर साथियों के साथ दो लोगों की खुलेआम गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद से ही वह जेल में बंद है। बंटी फिलहाल जबलपुर जेल में सजा काट रहा है।

अन्य महत्वपूर्ण खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here